The ‘Great Raj-a-Sthan Show’

उड़ गया Pilot , उड़ गया ,
रेतीसे, और रजवाडो से ,
जगमगाती राहो पे से ,
old – guard के परछाई से ,
पारिवारिक भ्रष्टाचार से ..
उड़ना जाने जो इसम ,
धीरे चलना वह क्यों चाहे ..
उड़ गया Pilot , उड़ गया !

उड़ गया Pilot , उड़ गया ,
किनारो से (Goa) , पहाड़ी से (north-east)
भिक मांगे मराठी से ,
कन्नडिगास के भूमिसे
खोयी सत्ता मध्य प्रदेश से ,
कर्त्तव्य के पथ जो चले,
कमजोर नेता वह क्यों चाहे ..
उड़ गया Pilot , उड़ गया !

उड़ गया Pilot , उड़ गया ,
कर्म से , खून से ,
राजपूत के भूमि से ,
मेहनत करे , बीज बोये ,
चुनाव जीते लगन से ,
बूढ़े की जब खो गयी मति ,
कुर्सी वह अब क्यों न चाहे ..
उड़ गया Pilot , उड़ गया !

गोलमाल है भाई ,
सब गोलमाल है ,
कसके थामिए अब seat – belt ,
Pilot जी की यह उड़ान ,
Kingfisher से Indigo है !!!

Published by अखिलेश कुलकर्णी

मराठी व इंग्रजी साहित्याला जोपासणारा एक कोवळा लेखक व कवी .

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

Create your website at WordPress.com
Get started
%d bloggers like this: